Wednesday, May 05, 2010

हिन्‍दी पुस्‍तकों का एक खजाना...मुफ्त में

शिक्षाविद अरविन्‍द गुप्‍ता ने एक पूरा खजाना अपनी वेबसाइट पर हमारे आपके लिए उपल‍ब्‍ध करवाया है एकबारगी तो विश्‍वास ही नहीं हुआ कि इतनी शानदार हिन्‍दी किताबें नेट पर उपलब्‍ध हैं। खासतौर पर यदि आप शिक्षक हैं या शिक्षा अथवा बच्‍चों में आपकी कोई रुचि है तो इन किताबों को जरूर देखें कम से कम कुछ को अवश्‍य पढ़ें तथा अपने बच्‍चों को पढ़वाऍं। हिन्‍दी की उपलब्‍ध किताबों की सूची मैं लिंक सहित नीचे कापी पेस्‍ट कर रहा हूँ...आप इस पेज को बुकमार्क कर लें तथा इत्‍मीनान से एक एक कर पढें तथा अरविन्‍दजी को धन्‍यवाद दें-

 

36 comments:

दीपक 'मशाल' said...

aapka aabhar

Hindu Bulletin said...

Done... Bookmarked...
Thanks a lot

रंजन said...

thanks

प्रवीण पाण्डेय said...

बुकमार्क कर लिया है । सुकून से पढ़ेंगे । आभार ।

Shekhar Kumawat said...

pahle to badhai de deta hun itne sare link ke liye


thenx

निशांत मिश्र - Nishant Mishra said...

बाप रे बाप! इतनी किताबें! एक-एक करके प्रिंट करके बच्चे को पढने के लिए दूंगा.

Vivek Rastogi said...

बहुत बहुत धन्यवाद इत्ती सारी किताबों के लिये

परमजीत सिँह बाली said...

जानकारी के लिए आभार।

Sanjeet Tripathi said...

kya collection hai boss, thnx
mere bhatije aur bhanje-bhanji ke liye print out nikalunga ek ek kar ke, shukriya

जितेन्द़ भगत said...

इतने सारे लिंक। बहुत काम की लिंक बताई आपने।

अविनाश वाचस्पति said...

पुस्‍तकें ही जीवन में जादू जगाती हैं

Udan Tashtari said...

आपका बहुत आभार इन लिंक्स को देने का

प्रवीण शाह said...

.
.
.
बहुत ही काम की जानकारी,
आभार आपका!

इस्लाम की दुनिया said...

अति सुन्दर

वाणी गीत said...

बहुत ही काम की जानकारी के लिए बहुत आभार ...!!

हिमांशु । Himanshu said...

उपयोगी जानकारी ! सराहनीय काम !
आपका आभार ।

सुशील कुमार छौक्कर said...

अच्छी जानकारी दी आपने। बुकमार्क कर लिया है।

प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI said...

बहुत बहुत ! आभार आपका और अरविन्द जी का !

iqbal abhimanyu said...

vaah. school me Eklavya ke madhyam se Arvind ji ki kitabein padhi thi.. Ab aapne up-labdh kara di. Dhanyavad..

( Roman me likhne ki maafi, jaldi me hoon )
Iqbal

ePandit said...

बहुत ही बढ़िया पुस्तकें, अरविन्द जी का आभार। इस जानकारी के लिये आपका भी धन्यवाद।

Anonymous said...

मसिजीवी जी को मेरा सलाम जो हमारी भाषा के उत्थान की लिए कितना कुछ कर रहे हैं

हम सभी को मसिजीवी जी से प्रेरणा लेनी चाहिए

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

सचमुच, ये तो महाखजाना है।
आभार इस जानकारी के लिए।
--------
बूझ सको तो बूझो- कौन है चर्चित ब्लॉगर?
पत्नियों को मिले नार्को टेस्ट का अधिकार?

मसिजीवी said...

test

vijay singh said...

Lajawab ! Ek ungli ke ishare bhar se itni behtareen books ankho ke samne.hardik dhanyawad! Sambhav ho to ise vargikrit kar de taki,talash karne me asani ho.

Anonymous said...

bhut bhut dhanvad ye ek khajana hai aap ess khajane me aur bhi hindi lekhako ke khaniya/granth dale

Hem said...

Bahut Achhe, ek collection hai isse bahut help milegi hindi sahitya ko bhi

Krishan Garg. said...

Great

Big Thanks

Krishan Garg. said...

Great

Big Thanks

Krishan Garg. said...

Great

Big Thanks

tauqueer ahmad said...

very very .....thanks for such a nice & beautiful collection of wonderful books....

tauqueer ahmad said...

very very .........thanks for such a nice & beautiful work.....

Magic Creations by Geetika said...

Kya Baat Hai!!
Sach-much kaa khazaanaa hai ye.
ek-ek moti nikaalnaa hoga.

Dhanyavaad.

Anmol Tiwari said...

अतिसुंदर संग्रह हैं आपका ।
आपनें इस नायाब खजानें को हम तक पहुँचाया इसके लिए आपको तह दिल से शुक्रिया ।
मैं एक अध्यापक हूँ तथा आपकी यह पाठ्य सामग्री मेरे साथ-साथ सभी विधार्थीयों के लिए भी ज्ञानवर्धक सिद्ध हो रही हैं। आप द्वारा
इसी प्रकार साहित्य सेवा जारी रहेगी ऐसी मेरी आशा हैं।
हाँ यदि आपके पास " मेला आंचल & हिमालय की साहसिक" यात्रा भी उपलब्ध हो तो कृपया पोस्ट ज़रूर करें।आपका बहुत आभारी रहूँगा।
भावी शुभकामनाओं के साथ आपका अनुज अनमोल

akhilesh kumar shukla said...

BAHOT BAHOT AABHAR

Amol Satpute said...

यह एक नायाब तोहफा है पाठकों के लिये.
बहोत सुंदर किताबों का संग्रह वह भी हिंदी भाषा मे मै पहली बार देख रहा हू.

Narendra Diwakar said...

अद्भुत,
मजा आ गया
हर आयु वर्ग के लोगों के लिए पुस्तकें वह भी सरल हिन्दी में।
इन पुस्तकों को बच्चों से पहले हम माता-पिता को अवश्य पढ़नी चाहिए।
ब्लागर महोदय की जितनी भी तारीफ की जय कम है।